Categories
international justice day world day for international justice world justice day इंटरनेशनल जस्टिस डे

इंटरनेशनल जस्टिस डे : न्याय का 1 महत्वपूर्ण दिन (International justice day in hindi)

इंटरनेशनल जस्टिस डे की शुरुआत रोम से हुई थी। इंटरनेशनल जस्टिस डे की पूरी कहानी 17 जुलाई 1998 को रोम में हुए राजनितिक मीटिंग से जुड़ी हुई है। और वहां पर एक संधि ने जन्म लिया, जो की रोम और अंतर्राष्ट्रीय अपराध न्यायलय के बीच था। जिसकी वजह से ही अंतर्राष्ट्रीय आपराधिक न्यायलय की स्थापना हुई।

Categories
इतिहास भारतीय इतिहास भारतीय इतिहास में झूठ

25 सबसे बड़े भारतीय इतिहास के झूठ : 16 वां झूठ कोई नहीं जानता

भारतीय इतिहास जो हमे बचपन से पढ़ाया जाता है। उसमें कई बातें झूठ हैं और कई बातें छुपाई गयी हैं। आज इस लेख में आप भारतीय इतिहास के झूठ से अवगत होंगे। ये झूठ हैं इनका प्रमाण भी है। जिसे पढ़कर आप खुद सोच सकते हैं कि क्या सच है और क्या झूठ। भारतीय इतिहास […]

Categories
इतिहास भारतीय इतिहास

भारतीय इतिहास में झूठ क्यों लिखे गए, इसके लिए कौन ज़िम्मेदार था? 6 मुख्य कारण

भारतीय इतिहास में क्या झूठ लिखे गए ये बात तो अब धीरे धीरे उजागर हो गयी है। लेकिन इतिहास में झूठ क्यों लिखे गए? इसके लिए कौन ज़िम्मेदार था? ये जानना भी ज़रूरी है।
आज के इस लेख में हम ऐसे ही 6 कारणों पर बात करेंगे। जिससे आपको अच्छे से पता चल जाएगा कि भारतीय इतिहास में झूठ क्यों लिखे गए?

Categories
जीवन परिचय स्वामी विवेकानंद

राष्ट्रीय युवा दिवस ( 12 जनवरी) : स्वामी विवेकानंद के 30 अनमोल वचन

राष्ट्रीय युवा दिवस स्वामी विवेकानंद जी के जन्म दिवस के दिन मनाया जाता है। स्वामी विवेकानंद जी का जन्म 12 जनवरी 1863 को हुआ था। उन्होंने भारत में लोगो को अपने देश को आगे बढाने के लिए प्रेरित किया और लोगो में ज्ञान की ज्योति जलाई।

Categories
जीवन परिचय स्वामी विवेकानंद

स्वामी विवेकानंद : जीवन परिचय और स्वामी जी की 10 रोचक बातें

स्वामी विवेकानंद’ शायद ही कोई हो इस वक़्त इस भारतवर्ष में हो जिसने स्वामी विवेकानंदजी का नाम न सुना हो। इनका नाम न सिर्फ भारत में ही अपितु विदेशो में भी बड़े सम्मान के साथ लिया जाता है। और तो और पूरी दुनिया उनके गुणों का बखान करती है।

Categories
नोआखली नोआखली दंगा नोआखली दंगो के कारण

नोआखली दंगो के कारण : 6वां कारण जानना बहुत ज़रूरी

जब जब नोआखली दंगो का नाम आता है, तो आंखों में सामने एक दर्द भरी तस्वीर उभर आती है। आज आप इस लेख में नोआखली दंगो के कारण के बारे में पढ़ेंगे। आप नोआखली दंगो के ऐसे कारण पढ़ेंगे जो आपने पहले कभी नही सुना होगा।

Categories
बारह बजने मुहावरा बारह बजने

मुहावरा बारह बजना: कहाँ से आया ये मुहावरा? ( 12 बजना )

मुहावरा बारह बजना का मतलब होता है- बुरी तरह से डर जाना।

जब कोई भी व्यक्ति, जानवर आदि बहुत अधिक डर जाते हैं, तो कहा जाता है।

इसके चेहरे पर बारह बजे हैं।